Connect with us

खेती-बाड़ी

Shatawari Cultivation किसानों के ऊपर बरस रहा पैसा ही पैसा

Shatawari Farming Kaise Kare,Is kheti ko karne se kitna Paise Kama Sakte Hai,Full Information of Shatawari

Published

on

Shatawari Cultivation Ki Kheti Kaise Kare

Shatawari Farming Kaise Kare,Is kheti ko karne se kitna Paise Kama Sakte Hai,Full Information of Shatawari

आज के दौर में हर क्षेत्र में प्रयोग हो रहे हैं, तो किसान भी इस दौर से कैसे पीछे रह सकते हैं l किसान भी दिन-प्रतिदिन खेती से संबंधित नए-नए प्रयोग सीख रहे हैं l आज के दौर में अधिकांश किसान औषधीय पौधों की खेती करने लगे हैं,जो कम समय में तैयार होकर अधिक मुनाफा देती है l ऐसे ही एक औषधीय पौधे का नाम है सतावर।

औषधीय के हिसाब से यह पौधा अत्यंत गुणकारी पौधा होता है तथा यह कांटेदार पौधे होने के कारण पूरे हिमालय क्षेत्र में फैला रहता है ।

Shatawari की लताएं  गुच्छों में 1 से 2 किलोमीटर तक फैली रहती है l Shatawari के पौधे का इस्तेमाल कई तरह की औषधीय को बनाने में किया जाता है,जिससे किसानों को बहुत लाभ हो रहा है  l

Also Read This – Poplar Kheti

शतावरी होती है काफी गुणकारी

शतावर का पौधा(Shatawari) बेसिकली  फीमेल रिप्रोडक्टिव प्रणाली में सुधार लाने के लिए किया जाता है l इसके अलावा यह पौधा तनाव को भगाने तथा एंटी ऑक्साइड गुणों से भरपूर होता है l

इस पौधे का इस्तेमाल बढ़ती उम्र की समस्याओं को दूर करने में भी किया जाता है l

इस प्रकार से की जानी चाहिए शतावरी की खेती

पिछले कुछ वर्षों में किसानों का शतावर(Shatawari) के पौधे के प्रति Interest  बढ़ा है l किसानों की भाषा में सतावर को कई नामों से जाना जाता है,जैसे शतावरी ,सतावर,सतमूली तथा सतमूल।

सतावर की खेती(Shatawari Cultivation) को नर्सरी टेक्नोलॉजी से किया जाता है l इस टेक्नोलॉजी से जुताई करने पर किसानों को अच्छी फसल मिल जाती है।

खेती से संबंधित सलाहकार  Shatawari को तैयार करने में जैविक खाद का इस्तेमाल करने की सलाह देते हैं। अगर खेती को लाभकारी बनाना हैतो उसमें पानी की व्यवस्था का उचित इंतजाम होना चाहिए l

Shatawari की खेती करके कमा सकते हैं इतने पैसे

सतावर की फसल को जोड़ने के बाद यह फसल 12 से 15 महीने में तैयार हो जाती है l

किसानों को 1 हेक्टेयर से करीबन ₹12000 से 14000 जड़े प्राप्त हो जाती हैं l

सूखने के बाद इन जड़ों का वजन आधा रह जाता है, जब किसान यह फसल बाजार में बेचने जाता है तो एक फसल पर करीबन पांच से छह लाख का लाभ मिल जाता है।

Benefits Of Shatawari

सतावर एक ऐसा चमत्कारी पौधा है,जो विभिन्न प्रकार की बीमारियों को ठीक करने के लिए किया जाता है।

  • सतावर का इस्तेमाल नींद ना आने वाली बीमारी में किया जाता है l जिसे अनिद्रा रोग भी कहते हैं l
  • इस रोग इस रोग में पकते हुए दूध में 2 से 4 ग्राम शतावरी चूर्ण तथा थोड़ा सा मिलाकर पीने से अनिद्रा रोग खत्म हो जाता है l
  • सतावर का इस्तेमाल गर्भवती महिलाओं के होने वाले शिशु के लिए बहुत फायदेमंद होता है l गर्भवती महिलाएं सतावर अश्वगंधा, भृंगराज आदि सभी को पीसकर चूर्ण बना लेती है तथा नवजात शिशु को बकरी के दूध में चूर्ण मिलाकर देने से काफी फायदा होता है।
  •  प्रेग्नेंट महिलाओं को मां बनने के बाद स्तनों में दूध बनने की समस्या होती है तथा उन समस्याओं को दूर करने के लिए 10 gm शतावर की जड़ को पीसकर दूध में मिलाकर पीने से यह समस्या दूर हो जाती है तथा स्तनों में दूध आने लगता है,जो नवजात शिशु के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है।
  • सतावर का उपयोग शारीरिक कमजोरी को दूर करने के लिए भी किया जाता है। सतावर से मालिश करने से शारीरिक कमजोरी दूर हो जाती है ।
  • Shatawari का उपयोग सर्दी जुखाम में किया जाता है l शतावर की जड़ का काढ़ा 15 से 20 अमल पीने से सर्दी जुकाम ठीक हो जाता है।
  • कभी-कभी तेज बोलने से हमारा गला बैठ  जाता है l इसका उपचार भी Shatawari Uses से किया जाता है l
  • इस परेशानी को दूर करने के लिए सतावर को शहद के साथ लेने से गला ठीक हो जाता है।
  •  सांसों के रोगों में भी शतावर बहुत उपयोगी ओषधि है l
  • शतावरी पेस्ट(Shatawari Paste)) थोड़ा सा घी और थोड़ा सा दूध लेकर घी में पकाए l इसको प्रतिदिन 5 से 10 ग्राम लेने पर सांस से संबंधित बीमारी, रक्तचाप से संबंधित, सीने में जलन, वित्त विकार आदि बीमारी भी ठीक हो जाती है।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

बिजनेस

Lemongrass Farming करके किसानों को होगा फायदा

Lemongrass Farming Kaise Kare,Is kheti ko karne se kitna Paise Kama Sakte Hai,Full Information of lemongrass

Published

on

LEMONGRASS FARMING

Lemongrass Farming Kaise Kare,Is kheti ko karne se kitna Paise Kama Sakte Hai,Full Information of lemongrass

भारतीय सरकार किसानों के लिए समय-समय पर काफी स्कीम चलाती रहती हैं,जिससे किसानों को आत्मनिर्भर बनाया जा सके। ऐसी ही एक स्कीम अभी कुछ समय पहले सरकार ने लॉन्च की थी जिसका नाम है एरोमा स्कीम।

एरोमा स्कीम के तहत नई-नई फसलों को तैयार करना तथा उनसे ज्यादा से ज्यादा मुनाफा करना। इसी स्कीम के तहत किसानों ने एक ऐसे पौधे को तैयार किया जिससे कम समय में तैयार करके ज्यादा मुनाफा कमाया जा सकता है l जिसका नाम लेमनग्रास है।

लेमन ग्रास(Lemongrass Farming) की पत्तियों का प्रयोग साबुन डिटर्जेंट, निरमा, तेल ,हेयर ऑयल तथा सर के दर्द की दवा आदि बनाने में किया जाता है। इसलिए किसान लेमन ग्रास की खेती(Lemongrass Farming) को कम समय में तैयार करके डायरेक्ट फैक्ट्री को बेचकर कम समय में ज्यादा मुनाफा कमाते हैं।

Lemongrass पौधे में नींबू जैसी महक होती है l कुछ लोग इसे चाय में डालकर चाय का आनंद लेते हैं l चलिए हम आपको बताते हैं कि लेमन ग्रास की खेती कहां की जा सकती है और लेमन ग्रास के फायदे क्या है l

Also Read This- Strawberry Ki Kheti Se Paise Kaise Kamaye

Lemongrass Farming करने का सबसे अच्छा तरीका

Lemongrass Farming को कई नामों से पुकारा जाता है,जैसे भारतीय नींबू घास, मालाबार घास, चाइना घास, एवं कोचीन घास,  के नाम से जाना जाता है। Lemongrass Farming की खास बात यह है कि यह सूखाग्रस्त इलाकों में लगाया जाता है l

इस फसल को पानी की बहुत कम जरूरत होती है तथा किसान इस पौधे को बंजर जमीन पर भी लगा सकते हैं l

Lemongrass Farming की बुवाई में किसानों को बहुत ही कम खर्चा आता है तथा किसानों को बार-बार इसकी बुवाई की जरूरत नहीं पड़ती l

एक बार बुवाई के बाद 7 साल तक यह पौधा अपने आप ही होता रहता है l इस पौधे में नींबू की खुशबू होने के कारण लोग नींबू की जगह सुबह की चाय में लेमन ग्रास(Lemongrass uses) का उपयोग करते हैं l जो बहुत फायदेमंद होता है।

Benefits Of Lemongrass

लेमनग्रास एक ऐसा चमत्कारी पौधा है,जो विभिन्न प्रकार की बीमारियों को ठीक करने के लिए किया जाता है। इस आर्टिकल में लेमन ग्रास से संबंधित सभी फायदे(Lemongrass Benefits) नीचे बताए गए हैंl

  • इस पौधे को चाय में डालकर पीने से तनाव से मुक्ति मिलती है तथा दिन भर ताजगी का अनुभव होता है l
  • इस पौधे में मैग्नीशियम अधिक मात्रा में पाया जाता है l जब किसी व्यक्ति को मैग्नीशियम अधिक मात्रा में मिलने लगता है,तो व्यक्ति को अनिद्रा और थकान से छुटकारा मिल जाता है  तथा उसे किसी भी प्रकार का तनाव नहीं होता है।
  • लोग इसे इम्यूनिटी बूस्टर के रूप में भी यूज़ करते हैं l सुबह की चाय के दौरान लेमनग्रास(Lemongrass Leaves)की कुछ पत्तियां चाय में उबालकर पीने से इम्यूनिटी लेवल बढ़ता है।
  • लेमन ग्रास का पौधा मॉर्निंग चाय में डालकर पीने से याददाश्त बढ़ती है, क्योंकि इसमें मौजूद मैग्नीशियम फास्फोरस तथा  फोलेट नर्वस सिस्टम को हेल्दी रखने का काम करता है।
  • नियमित रूप से लेमन ग्रास का सेवन करने से वजन घटा सकते हैं, क्योंकि Lemongrass अनावश्यक चर्बी को काम करता है l
  • लेमन ग्रास हार्ट से संबंधित बीमारियों के लिए बहुत फायदेमंद होता है l
  • इसका नियमित रूप से सेवन करने से शरीर में मौजूद कोलस्ट्रोल लेवल कम होता है और यह कोलेस्ट्रोल लेवल को कंट्रोल करके रखता है l जिस कारण हॉट अटैक की संभावना कम से कम रहती है।
  • लेमनग्रास पाचन संबंधी समस्याओं को दूर करने में बहुत मददगार साबित होता है l
  • इसका नियमित रूप से सेवन करने से अपच ,गैस कब्ज ,एसिडिटी जैसी समस्याएं नहीं होती है।
  • लेमन ग्रास में एंटी बैक्टीरियल,एंटी फंगल गुण होने के कारण यह शरीर पर मुहासे तथा पिंपल्स नहीं होने देता।

Continue Reading

खेती-बाड़ी

Kheti Se Paise Kaise Kamaye -खेती से कमाए लाखों रुपया, जीरो इन्वेस्टमेंट से शुरू करें लाखों का बिजनेस

Kheti Se Paise Kaise Kamaye , Best Business For Agriculture ,Also Check Kheti Se Paise Kamane Ke Tarike

Published

on

Kheti Se Paise Kaise Kamaye

Kheti Se Paise Kaise Kamaye , Best Business For Agriculture ,Also Check Kheti Se Paise Kamane Ke Tarike

आज के समय में अधिकतर लोग पैसा तो कमाना चाहते हैं, लेकिन उन्हें यह पता नहीं होता कि वह ऐसा क्या काम करें जो उनकी कमाई भी अच्छी हो और पैसे भी अधिक खर्च ना हो l

अगर आप भी अपना काम शुरू करना चाहते हैं और Kheti Se Jude Bussiness से कमाना चाहते हैं,  तो आपके लिए यह पोस्ट काफी महत्वपूर्ण होने वाली है l

इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको यह बताएंगे कि Kheti Se Paise Kaise Kamaye और खेती से आप कौन-कौन से व्यवसाय करके पैसा कमा सकते हैं l चलिए जानते हैं

Kheti Se Related Business Konse Hai और पूरी जानकारी विस्तार से ताकि आप भी खेती से लाखों रुपया कमा सकें l

Kheti se Paise Kamane Ke Tarike

देखी दोस्तों वैसे तो खेती से पैसा कमाने के काफी सारे तरीके हैं l लेकिन हम आपको सबसे पहले बता दें कि अगर आप खेती करके पैसा कमाना चाहते हैं, तो आपके पास अगर खुद की जमीन है तो यह ज्यादा अच्छा होगा l

कई बार हमारे पास खुद की जमीन खाली पड़ी रहती है और हम ऐसे ही उस जमीन को छोड़ देते हैं l

अगर आपके पास भी कुछ ऐसे ही खाली जमीन पड़ी हुई है, तो आप इस पर खेती करके काफी मोटी रकम कमा सकते हैं l चलिए अब हम आपको बताते हैं कि आप के पास यदि काफी कम जगह भी है. तो फिर भी आप Kheti Se Paise Kaise Kamaye सकते हैं l

also Read this – Rajasthan Budget 2022-23

Aloe Vera Ki Kheti Se Paise Kaise Kamaye details In Hindi

दोस्तों अधिकतर हमारे पास खेती करने के लिए काफी कम जगह होती है और हम यह सोचते हैं कि शायद इतनी जमीन पर हम खेती नहीं कर सकते हैं और ना ही हमें इससे ज्यादा फायदा मिलेगा l

इसीलिए हम उस जगह को ऐसे ही बेकार पड़ी रहने देते हैं l लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आपके पास अगर कोई छोटी या कम जमीन खाली पड़ी है, तो आप उसका इस्तेमाल Aloe Vera Ki Kheti करने के लिए कर सकते हैं l

एलोवेरा की खेती करके आप काफी अच्छा पैसा कमा सकते हैं l हम सभी जानते हैं कि एलोवेरा हमारी सेहत के लिए कितना जरूरी है l आजकल तो आपको बाजार में भी एलोवेरा जूस मिलने लगा है l

इसी के साथ आप एलोवेरा का इस्तेमाल चेहरे के लिए और बालों को घना बनाने के लिए भी कर सकते हैं l

इसलिए एलोवेरा की खेती करना आपके लिए बेस्ट ऑप्शन रहेगा l आपको इसमें कुछ भी ज्यादा खर्चा करने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी l आप एलोवेरा को पतंजलि(Patanjali Company) को बेचकर भी काफी पैसा कमा सकते हैं l

Phulo Ki kheti se paise kaise Kamaye

हम सभी जानते ही हैं आज के समय में एक ऐसा Trend चल चुका है कि चाहे कोई फंक्शन हो या फिर कोई धार्मिक प्रोग्राम उसमें फूलों की तो काफी जरूरत पड़ती ही है l

अगर आप यह सोच रहे हैं कि Phulo Ki Kheti Se Jyda Paise Kaise Kamaye तो हम आपको बहुत सटीक जानकारी देंगे l फूलों की खेती पैसा कमाने का अच्छा विकल्प रहेगा l

आपकी जानकारी के लिए बता दें की फूलों की खेती करने के लिए आपको फूलों के बीजों और डाली की आवश्यकता होगी और यह सामान महंगा भी नहीं आता है l

इसलिए आपका यह बिजनेस कम पैसों में शुरू भी हो जाएगा और जब फूलों की खेती होगी तो वह उसे Sale कर काफी ज्यादा पैसे कमा सकते हैं l आप अपने आसपास फूलों की सप्लाई(Flower Supply Business) कर सकते हैं l

Also Read This –

Tamatar Ki kheti Se paise kaise kamaye

हम सभी जानते ही हैं कि हमारे घर में हर सब्जी में टमाटर का उपयोग किया जाता है l ऐसी कोई भी सब्जी नहीं होगी जिसमें टमाटर नहीं ढलता होगा l तो इस हिसाब से अगर आप रोज अंदाजा लगाएं तो आपके आसपास बाजार में भी काफी किलो के हिसाब से रोज का टमाटर बिकता होगा l अगर आपके पास कुछ छोटी सी जगह है, तो आप उस में Tamatar Ki kheti करके काफी पैसे कमा सकते हैं l

टमाटर की खेती करने के लिए आपको ज्यादा सामान लेने की भी आवश्यकता नहीं होगी l आपको बस टमाटर के कुछ पौधों की आवश्यकता होगी और उसके बाद आप इसमें खाद और पानी का ध्यान रखें l

थोड़े समय में ही काफी पैसे कमा सकते हैं आप सभी जानते हैं कि टमाटर जब आउट ऑफ सीजन में होता है, तो उसका रेट ₹100 किलो से भी ज्यादा का हो जाता है l इसलिए आप अपने छोटे से खेत में टमाटर की खेती करके पैसा कमा सकते हैं l

हम उम्मीद करते हैं कि हमारी पोस्ट के माध्यम से आपको यह समझ आ गया होगा कि kheti Se Paise Kaise Kamaye l

Frequently Asked Question’S

Qus- Kheti Se Judi Business कौन-कौन से हैं?

Ans- टमाटर की खेती,फूलों की खेती, एलोवेरा की खेती ,जड़ी बूटियों की खेती, हरी सब्जियों की खेती

Qus-kheti Se Related Business In Hindi कौन से हैं?

Ans- हमने अपनी पोस्ट में बता दे कृपया पोस्ट को पूरा पढ़ें l

Qus- खेती से करोड़पति कैसे बने?

Ans- अगर आपके पास खेती करने के लिए जमीन जाता है तो आप इसमें कोई भी अच्छी फसल लगाकर खेती कर सकते हैं

Qus- खेती से जुड़े बिजनेस से मुनाफा हो सकता है या नहीं?

Ans- खेती से मुनाफा आपको काफी प्राप्त हो सकता है l

Qus- kheti se jyda paise kaise kamaye ?

Ans – आप बांस की खेती और पॉपुलर के पेड़ पैसा कमा सकते हैं ?

l

Continue Reading

खबर

Desi Kapas Yojana 2022 : हरियाणा सरकार दे रही ₹3000

Desi kapas yojana 2022 registration , check eligibilty, important documents , application process.

Published

on

Desi kapas yojana

Desi Cotton Scheme Yojana 2022 registration, check eligibilty, important documents, application process.

Desi Kapas Yojana Haryana राज्य में कई तरह की फसलों पर नए-नए प्रयोग किए जा रहे हैं, जिनमें से एक फसल का नाम है देसी कपास। हरियाणा राज्य में कपास के मुख्य तीन बीजों का इस्तेमाल किया जाता है। जिनका नाम है नरमा, बीटी कॉटन और देसी कपास। अप्रैल के मध्य में कपास(Cotton) के सभी तरह बीजों की खेती शुरू कर दी जाती है।

Haryana Government ने हरियाणा राज्य के किसानों की आय के स्रोत को बढ़ाने के लिए Desi Kapas Ki Kheti के प्रोडक्शन को बढ़ाने का फैसला लिया गया है l इसके अंतर्गत हरियाणा सरकार ने यह फैसला लिया है, जो किसान ज्यादा से ज्यादा कपास की खेती करेगा उस किसान को प्रति एकड़ ₹3000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाए।

Desi kapas Yojana Haryana Short Information

Scheme NameDesi Kapas Yojana 2022 Haryana
Start BYHaryana Government
BeneficaryHaryana Farmers
Official Website Linkhttps://fasal.haryana.gov.in
Objectivesजो किसान ज्यादा से ज्यादा कपास की खेती करेगा, उस किसान को प्रति एकड़ ₹3000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी I

cotton varieties Bijai starts from mid of April

हरियाणा सरकार के द्वारा देसी कपास के उत्पादन(Desi Kapas Prodution) को बढ़ाने के लिए दिन-ब-दिन प्रयास किए जा रहे हैं, जिससे कि वहां के किसानों की आय का स्रोत बढ़ जाए। हरियाणा राज्य के सभी प्रदेशों में देसी कपास की तीनों किस्मों की फसल अप्रैल माह के मध्य में अर्थात 15 अप्रैल के आसपास शुरू हो जाती है।

इसे देखते हुए हरियाणा सरकार कपास की बुवाई से पहले राज्यों के किसानों को ₹3000 की आर्थिक मदद उपलब्ध करवा रही है, जिससे Haryana Desi Kapas Production को बढ़ावा मिल सके।

Planning of Increase the Desi cotton Production In Haryana

हरियाणा सरकार के द्वारा किसानों की आय बढ़ाने के लिए सरकार देसी कपास के प्रोडक्शन बढ़ाने पर जोर दे रही है। इसके अंतर्गत उन सभी किसानों को ₹3000 की राशि सरकार द्वारा दी जाएगी, जो Desi Kapas Production में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। जिसके अंतर्गत उन सभी किसानों को उच्च क्वालिटी के बीज सरकार द्वारा कृषि विभाग के सभी अधिकारियों को निर्देश दे दिए गए हैं।

हरियाणा राज्य में 2021 में 15.25% एकड़ क्षेत्र में कपास की खेती हुई थी। लेकिन सरकार ने 2022 में 19.25 एकड़ क्षेत्र में देसी कपास की खेती का लक्ष्य रखा है। इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए सरकार ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि किसानों की इस लक्ष्य को प्राप्त करने में हर संभव मदद की जाए।

Desi Kapas Yojana Ka Labh Lene Ke Liye Documents

  •  योजना का लाभ लेने वाले किसान के पास अपना आधार कार्ड होना चाहिए।
  •  आवेदन करने वाले किसान के पास अपना पहचान पत्र एवं निवास पत्र प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  •  आवेदक जिस भूमि पर खेती कर रहा है,  उनके कागज होने चाहिए।
  •  आवेदक का मोबाइल नंबर आधार से लिंक होना चाहिए।
  •  आवेदक का किसी भी बैंक में खाता होना चाहिए तथा उसकी बैंकों की आवेदक के पास होनी चाहिए।
  •  आवेदक के पास अपनी Passport Size Photo होने चाहिए।

Desi Kapas Yojana Ka Labh Kaise Le

Desi Cotton Production पर सरकार द्वारा दी जाने वाली वित्तीय सहायता को लेने के लिए किसान को सबसे पहले मेरी फसल मेरी ब्यौरा पर रजिस्ट्रेशन करना होगा l Desi Kapas Yojana Registration Process नीचे दिए गए महत्वपूर्ण बिंदुओं से बताई गई है।

  • योजना का लाभ लेने वाले किसान को सबसे पहले मेरी फसल मेरा ब्योरा की Official Website  (https://fasal.haryana.gov.in) पर जाना होगा l
  •  आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद लिंक पर क्लिक करें।
  •  लिंक पर क्लिक करने के बाद एक नया पेज ओपन होगा, जिसके बाद आप किसान पंजीकरण पर क्लिक करें।
  • किसान पंजीकरण पर क्लिक करने के बाद आपसे आपका मोबाइल नंबर मांगा जाएगा।
  • मोबाइल नंबर भरने के बाद ओटीपी आएगा। ओटीपी दर्ज करने के बाद verify पर क्लिक करें  l
  • verify करने के बाद आपसे परिवार की आईडी पूछी जाती है l
  • आपको पता है, तो Yes पर क्लिक करें l यदि नहीं पता, तो No पर क्लिक करें।
  • परिवार की आईडी को भरने के बाद अपना 16 नंबरों का आधार कार्ड नंबर दर्ज करें और continue पर क्लिक करें।
  • उसके बाद मेरी फसल मेरा ब्यौरा का अधिकारिक Form खुलकर आपके सामने आ जाएगा l
  • इस form में पूछी गई समस्त जानकारी को सही सही भरे।
  • समस्त जानकारी सही-सही भरने के बाद सबमिट पर क्लिक करें। इस प्रकार आपका Registration रजिस्ट्रेशन हो जाएगा।

Continue Reading

Trending