Connect with us

राजनीति

54 साल बाद हरियाणा के सरकारी कर्मचारी RSS की शाखाओं में शामिल हो सकेंगे…

Government employees will be able to join RSS branches

Published

on

employees able to join RSS

हरियाणा सरकार ने सरकारी कर्मचारियों पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) की गतिविधियों में शामिल होने पर लगा बैन हटा लिया है। हरियाणा सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग ने एक सर्कुलर जारी कर इसकी जानकारी दी है।


सर्कुलर में बैन से जुड़े पिछले आदेशों को वापस ले लिया गया है, जिसके तहत सरकारी कर्मचारियों के RSS की गतिविधियों में भाग लेने पर रोक लगी थी। यानी अब हरियाणा सरकार के कर्मचारी RSS की गतिविधियों में खुलकर भाग ले सकेंगे। हरियाणा के सरकारी कर्मचारी अब RSS की गतिविधियों में हिस्सा ले सकेंगे।

सरकार ने 1967 और 1980 में लगाए गए प्रतिबंध वाले आदेशों को वापस ले लिया है। हालांकि राजनीति में कर्मचारियों के हिस्सा लेने, प्रचार करने व वोट मांगने पर अब भी रोक जारी रहेगी। 1967 और 1980 में प्रतिबंध लगाने वाली सरकारों ने RSS को राजनीतिक संगठन माना था। जबकि RSS खुद को सांस्कृतिक संगठन कहता है।

30 नवंबर 1966 को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने एक आदेश जारी किया था। इसके मुताबिक मंत्रालय ने केंद्रीय सिविल सेवा (आचरण) नियम, 1964 का हवाला देते हुए कहा था कि कोई भी सरकारी कर्मचारी किसी भी राजनीतिक पार्टी से बतौर सदस्य या किसी भी तरह से जुड़ा नहीं होगा। इस नियम में उन संगठनों का भी जिक्र था, जो राजनीतिक नहीं थे, लेकिन किसी न किसी तौर पर राजनीति से जुड़े हुए थे।

खबर

Aparna Yadav ने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण करके अखिलेश यादव को दिया झटका -Anurag Thakur ने किया स्वागत

Aparna Yadav ने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण करके अखिलेश यादव को दिया झटका -Anurag Thakur ने किया स्वागत

Published

on

Aparna yadav

Aparna Yadav Join Bjp News: हम सभी जानते ही हैं की उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव के कारण माहौल काफी गर्मआया हुआ है I सभी राजनीतिक पार्टियां एक दूसरे पर शिकंजा कसने का कोई मौका नहीं छोड़ रही है I बीजेपी के कई बड़े मंत्रियों ने बीजेपी से इस्तीफा देकर भारतीय समाज पार्टी को ज्वाइन कर लिया है I
वहीं दूसरी ओर मुलायम सिंह यादव की बहू अर्पणा यादव ने भी हाल ही में बीजेपी पार्टी को ज्वाइन कर लिया है I जब से अर्पणा यादव ने समाजवादी पार्टी को छोड़कर भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ली है तभी से अर्पणा यादव खूब सुर्खियों में बनी हुई है I बीजेपी पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने के बाद केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने भी समाजवादी पार्टी को निशाना साधते हुए अर्पणा यादव का बीजेपी पार्टी(Aparna Yadav BJP) में स्वागत किया है I

aparna yadav
aparna yadav

अखिलेश यादव के साथ परिवारिक विवाद होने के कारण Aparna Yadav ने छोड़ा सपा का साथ

वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की राजनीतिक में बड़ा तूफान देखने को मिल रहा है I कई राजनीतिक पार्टियों बड़े के मंत्री ने इस्तीफा दे दिया है और मुलायम सिंह यादव की बहू ने भी सपा छोड़कर भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली है I
Aparna Yadav के इस फैसले से सभी लोग हैरान हैं क्योंकि वह मुलायम सिंह यादव जी के परिवार की है फिर भी वह सपा पार्टी छोड़कर बीजेपी की पार्टी में शामिल हो गई हैI
जानकारी के मुताबिक पिछले कुछ सालों से अर्पणा यादव और अखिलेश यादव के परिवार के संबंध सही नहीं
चल रहे थे I राजनीतिक ऐसी चीज है जिसमें अच्छे-अच्छे परिवार टूट जाते हैं यही कारण है कि आपसी विवाद
के कारण अर्पणा ने बीजेपी पार्टी अपना ली है I

Anurag thakur ने अर्पणा यादव के फैसले का किया स्वागत

Anurag Thakur On Aparna Yadav: अर्पणा यादव का बीजेपी की सदस्यता ग्रहण करने के बाद अनुराग ठाकुर ने अर्पणा यादव की तारीफ करते हुए उनका बीजेपी कि सदस्यता ग्रहण करने पर स्वागत किया है I अनुराग ठाकुर ने कहा कि हम अर्पणा यादव की हिम्मत को मानते हैं I उन्होंने अपने बलबूते पर इतना बड़ा फैसला लिया है I अर्पणा यादव का बीजेपी पार्टी में शामिल होने से भारतीय जनता पार्टी को और भी मजबूती मिलेगी और पहले से भी ज्यादा मजबूती के साथ इस बार फिर से उत्तर प्रदेश में वापसी करेंगे I

Anurag Thakur ने सपा को साधा निशाना

अनुराग ठाकुर ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने जब से उत्तर प्रदेश को संभाला है तभी से नारी सुरक्षा बढ़ गई है I अनुराग ठाकुर ने बताया कि 5 वर्षों में भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश की पूरी काया ही पलट दी है I
अनुराग ठाकुर का कहना है कि पहले महिलाएं घर से बाहर नहीं निकल पाती थी लेकिन जब से उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी आई है तब से ही महिलाएं रात को भी घर से बाहर निकल सकती है और आत्मनिर्भर बनने के लिए नौकरी भी कर रही हैं I

aparna yadav

अर्पणा यादव के इस फैसले से सपा को मिला झटका

अर्पणा यादव का सपा छोड़ बीजेपी में शामिल होना अखिलेश यादव को बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगा होगा I देखना यह होगा कि अर्पणा यादव की फैसले पर अखिलेश यादव क्या बयान देते हैं I जैसे-जैसे उत्तर प्रदेश के चुनाव है वैसे वैसे माहौल काफी गर्मआया हुआ है I अब देखना यह होगा कि इस बार विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की जनता किसे मुख्यमंत्री चुनती है I

Continue Reading

खबर

कमल गुप्ता व देवेन्द्र बबली को बनाया गया मंत्री

मनोहर लाल सरकार ने कैबिनेट में दो चेहरे डॉक्टर कमल गुप्ता देवेन्द्र बबली  को शामिल किया है राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने दोनों विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई.|हिसार सीट से बीजेपी विधायक कमल गुप्ता ने संस्कृत में तो वहीं टोहाना सीट से जननायक जनता पार्टी के विधायक देवेंद्र बबली ने हिंदी में मंत्री पद की शपथ ली |

Published

on

Kamal Gupta and Devendra Babli were made ministers

मनोहर लाल सरकार ने कैबिनेट में दो चेहरे डॉक्टर कमल गुप्ता देवेन्द्र बबली  को शामिल किया है राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने दोनों विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई.|हिसार सीट से बीजेपी विधायक कमल गुप्ता ने संस्कृत में तो वहीं टोहाना सीट से जननायक जनता पार्टी के विधायक देवेंद्र बबली ने हिंदी में मंत्री पद की शपथ ली |

दोनों मंत्रियों को कौनसा मंत्रालय दिया जाएगा इसको लेकर अभी तक कोई जानकारी नहीं है.रकार का पहला और आखिरी कैबिनेट विस्तार है |कैबिनेट में पहले 12 मंत्री थे और अब 14 हो गए है.  उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने दोनों नए मंत्रियों को बधाई दी |

डॉक्टर कमल गुप्ता

डॉक्टर कमल गुप्ता 2014 में हिसार विधानसभा सीट से कांग्रेस की बड़ी नेता सावित्री जिंदल को हराकर पहली बार विधायक बने थे. 2019 में दोबारा फिर हिसार से विधायक बने. प्रदेश में बीजेपी के पुराने कार्यकर्ताओं में आते हैं. लंबे समय तक आरएसएस से भी जुड़े रहे हैं.

देवेन्द्र बबली

देवेन्द्र बबली जजपा की टिकट पर टोहाना विधानसभा सीट से चुनाव लड़ते हुए बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला को 50 हजार से अधिक वोटों से मात दी. देवेन्द्र बबली एक अच्छे नेता के रूप में भी उभरकर सामने आए | समय-समय पर समाज के लिए  अनेकों कार्य भी करते  रहे हैं |

Continue Reading

खबर

चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव आम आदमी पार्टी ने मारी बाजी भाजपा की हुई हार

पंजाब और हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ के नगर निगम चुनाव में भाजपा को हराकर आम आदमी पार्टी ने मारी बाजी भाजपा को सिर्फ 12 सीटें मिली | आम आदमी पार्टी ने चंडीगढ़ में धमाकेदार एंट्री की आप ने पहली बार चुनाव लड़ते हुए 14 सीटें जीत ली। कांग्रेस सिर्फ 8 सीटों पर ही जीत हासिल कर सकी | शिरोमणि अकाली दल को सिर्फ एक सीट मिली |आम आदमी पार्टी और भाजपा के बीच ही मुख्य मुकाबला रहा।

Published

on

Aam Aadmi Party won

पंजाब और हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ के नगर निगम चुनाव में भाजपा को हराकर आम आदमी पार्टी ने मारी बाजी भाजपा को सिर्फ 12 सीटें मिली | आम आदमी पार्टी ने चंडीगढ़ में धमाकेदार एंट्री की आप ने पहली बार चुनाव लड़ते हुए 14 सीटें जीत ली। कांग्रेस सिर्फ 8 सीटों पर ही जीत हासिल कर सकी | शिरोमणि अकाली दल को सिर्फ एक सीट मिली |आम आदमी पार्टी और भाजपा के बीच ही मुख्य मुकाबला रहा।

 कौन जीता चुनाव

 BJP के सीनियर डिप्टी मेयर महेशइंदर सिद्धू जीत तो गए मगर जीत का अंतर सिर्फ 11 वोट का रहा ।  आम आदमी पार्टी और भाजपा के उम्मीदवारों के बीच  कड़ा मुकाबला रहा  जिसमें आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार ने 11 वोटों से जीत कर बाजी मार ली|  कांग्रेस सिर्फ 8 सीटों पर ही जीत हासिल कर सकी | भाजपा को सिर्फ 12 सीटें मिली| आप ने पहली बार चुनाव लड़ते हुए 14 सीटें जीत ली।

काउंटिंग अपडेट्स.. के बारे में जानकारी

 वार्ड 1 से 10 तक

  • 1 वार्ड से आम आदमी पार्टी की जसविंदर कौर ने भाजपा की मनजीत कौर को हराया।
  • 2 वार्ड से भाजपा के महेशइंदर सिंह सिद्धू 11 वोटों से कांग्रेस हरमोहिंदर सिंह लक्की को हराया।
  • 3 वार्ड से भाजपा के दिलीप शर्मा ने कांग्रेस के रवि कुमार को हराया।
  • 4 वार्ड से आम आदमी पार्टी की सुमन देवी ने भाजपा की सविता गुप्ता को हराया।
  • 5 वार्ड से कांग्रेस की दर्शना ने भाजपा की नितिका गुप्ता को हराया।
  • 6 वार्ड से भाजपा की सर्बजीत कौर ने कांग्रेस की ममता गिरी को हराया।
  • 7 वार्ड से भाजपा के मनोज कुमार ने कांग्रेस के ओमप्रकाश को हराया।
  • 8 वार्ड से भाजपा के हरजीत सिंह ने कांग्रेस के केएस ठाकुर को हराया।
  • 9 वार्ड से भाजपा की बिमला दुबे ने आजाद मनप्रीत कौर को हराया।
  • 10 वार्ड से कांग्रेस के हरप्रीत कौर बबला ने भाजपा की राशि भसीन को हराया।

 वार्ड 11 से 20 तक

  • 11 वार्ड से भाजपा के अनूप गुप्ता ने आम आदमी पार्टी के ओंकार सिंह औलख कोहराया।
  • 12 वार्ड से भाजपा के सौरभ जोशी ने कांग्रेस के दीपा अशधीर दुबे को हराया।
  • 13 वार्ड से कांग्रेस के सचिन गालव ने आम आदमी पार्टी के सीनियर नेता चंद्रमुखी शर्मा को हराया।
  • 14 वार्ड से भाजपा के कुलजीत सिंह संधू ने आम आदमी पार्टी के कुलदीप सिंह को हराया।
  • 15 वार्ड से आम आदमी पार्टी के रामचंद्र यादव ने कांग्रेस के धीरज गुप्ता को हराया।
  • 16 वार्ड से आम आदमी पार्टी की पूनम ने भाजपा की ऊषा को हराया।
  • 17 वार्ड से आम आदमी पार्टी के दमनप्रीत सिंह ने भाजपा के रविकांत शर्मा को हराया।
  • 18 वार्ड से आम आदमी पार्टी की तरूणा मेहता ने भाजपा की सुनीता धवन को हराया।
  • 19 वार्ड से आम आदमी पार्टी की नेहा ने कांग्रेस की कमलेश को 804 वोटों से हराया।
  • 20 वार्ड से कांग्रेस के गुरचरनजीत सिंह ने निर्दलीय कृपानंद ठाकुर कोहराया।

वार्ड 20 से 30 तक

  • 21 वार्ड से आम आदमी पार्टी के जसबीर सिंह ने भाजपा के देवेश मोदगिल को हराया।
  • 22 वार्ड से आम आदमी पार्टी की अंजू कत्याल ने भाजपा की हीरा नेगी को हराया।
  • 23 वार्ड नंबर से आम आदमी पार्टी की प्रेम लता ने कांग्रेस की रविंदर कौर को हराया।
  • 24 वार्ड से कांग्रेस के जसबीर सिंह ने भाजपा के सचिन कुमार को हराया।
  • 25 वार्ड से आम आदमी पार्टी के योगेश ढींगरा ने भाजपा के विजय कौशल राणा कोहराया।
  • 26 वार्ड से आम आदमी पार्टी के कुलदीप कुमार ने कांग्रेस के जितेंद्र कुमार को हराया।
  • 27 वार्ड से कांग्रेस के गुरबख्श रावत ने भाजपा के रविंदर सिंह रावत कोहराया।
  • 28 वार्ड से कांग्रेस की निर्मला देवी ने भाजपा की जसविंदर कौर लड्‌डू को हराया।
  • 29 वार्ड से आम आदमी पार्टी की मनुहार ने भाजपा के रविंदर कुमार को हराया।
  • 30 वार्ड से शिरोमणि अकाली दल (बादल) के हरदीप सिंह ने कांग्रेस के अतिंदरजीत सिंह को हराया

 वार्ड 30 से 35 तक

  • 31 वार्ड से आप के लखबीर सिंह ने भाजपा के भारत कुमार कोहराया।
  • 32 वार्ड से भाजपा के जश्नप्रीत सिंह ने आम आदमी पार्टी के संजीव कोचर को हराया।
  • 33 वार्ड से भाजपा के कंवरजीत सिंह ने कांग्रेस विजय सिंह राणा को हराया।
  • 34 वार्ड से कांग्रेस के गुरप्रीत सिंह ने भाजपा के भूपिंदर शर्मा को हराया।
  • 34 वार्ड से भाजपा के राजिंदर कुमार शर्मा ने आम आदमी पार्टी के जगजीवन जीत सिंह को हराया।

सुरक्षा के कड़े इंतजाम

 चंडीगढ़ पुलिस और पैरा मिलिट्री फोर्स की ओर से सुरक्षा के बहुत कड़े इंतजाम किए हुए थे | केवल उम्मीदवार और पोलिंग एजेंट को ही अंदर जाने की अनुमति दी गई। |अबकी बार 60.45 प्रतिशत वोट पोल हुए | सुरक्षा को लेकर चंडीगढ़ पुलिस ने पहले ही अच्छे बंदोबस्त  किए हुए थे

Continue Reading
Advertisement

Trending